ISRO GISAT-1 लाइव ट्रेकिंग सेटेलाइट लॉन्च करेगा

0
149
views
ISRO GISAT-1 Live tracking

Contents

इसरो 5 मार्च को GSLV-F10 से जिओ इमेजिंग सेटेलाइट, GISAT-1 सेटेलाइट सतीस धवन श्री हरि कोटा के स्पेस सेंटर से लॉन्च करेगा। इसरो 5 मार्च को मौसम देखते हुए 5 बज कर 43 मिनट को लांच करेगा। इस के ठीक 18 मिनेट और 39 सेकंड मैं यह सेटेलाइट लांच किया जाएगा। ये GSLV की चौथी उड़ान है।

निगरानी की दुनिया का नया तूफान यानी GISAT-1 अपनी तकनीकी समता से पूरी दुनिया में अपना तहलका मचाने वाला है क्योंकि यह उचित टेक्निक वाला earth imagine satteligh है। जो कि के real time तस्वीरे देने का काम करेगा।

धरती से 36000 किलोमीटर की ऊंचाई पर यह उपग्रह GISAT1 पृथ्वी का पूरा चक्कर लगा कर हर 2 घंटे में ठीक उसी पॉइंट पर पहोच जाएगा। इस से धरती की सबसे तेजी से तस्वीरे ली जाएगी। यानी किसी location की सटीक निग्रहनी हो सकेगी और वह भी लंबे वक्त के लिए।

सेना इसके जरिए दुश्मन की हर हलचल की सटीक जानकारी हासिल कर लेगी। और जरूरत पड़ने पर सर्जिकल और एयर स्ट्राइक को अंजाम दे सकती है। इसरो के सीनियर साइंटिस्ट आलोक कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक इस सेटेलाइट में high-resolution कैमरे लगे हैं जिनके जरिए हम अपने बॉर्डर की नियंतण्र निगरानी कर सकते हैं। साथ ही देश की किसी भी भूगोल परिस्थिति बदलाव को सटीक मॉनिटरी कर सकते हैं।

छोटे से लेकर धरती के बड़े भूभाग के रियल टाइम तस्वीरें ले सकता है साथ ही भौगोलिक हलचल की क्विक मॉनिटरिंग रखेगा।

क्यो बेहद खास है GISAT-1?

GISAT-1 multy spectrol यानी कि विजिबल इंफ्रारेड थर्मल सेंसर से तस्वीरें ले सकता है। साथ ही है मल्टीरेजोल्यूशन इमेजिंग पैलीवुड से लेश है। जो 40 मीटर से 1500 मीटर तक की तस्वीरे ले सकता है। ये पृथ्वी के भू भाग का रियल टाइम तस्वीरे प्रदान करेगा। किसी भी सिलेक्टेड भूभाग की हर 5 मिनट में और पूरे भारत की फूफा की हर 30 मिनट में 50 मीटर के रिजर्वेशन में तस्वीरें भेजेगा।

कृषि, जंगल, खनन, बादल की संरचना, बर्फ ओर ग्रसियर साथ ही समंदर की मल्टी स्पेक्ट्रल तस्वीरे लेने का काम करेगा। इस काम के लिए सेटेलाइट में कई तरह के मल्टीस्पेक्ट्रेल और नियर इंफ्रारेड सेंसर लगे हुए हैं। isro का कहना है कि 2275 kg वजन GISAT-1 एक अत्याधुनिक तेजी से धरती का अवलोकन करने वाला उपग्रह है जो पूछ तीर की रक्षा में शामिल होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here